Wed. Sep 27th, 2023


Ganga Dussehra 2023- India TV Hindi

Image Source : INDIA TV
Ganga Dussehra 2023

Ganga Dussehra 2023:  हिंदू पंचांग के अनुसार जेष्ठ माह के शुक्ल पक्ष की दशमी तिथि को गंगा दशहरा का पर्व मनाया जाता है। इस बार यह त्योहार 30 मई, दिन मंगलवार को मनाया जाएगा। इस दिन गंगा मैय्या के साथ-साथ भगवान शिव की उपासना का भी महत्व है। मान्यता है कि गंगा दशहरा के दिन गंगा नदी में स्नान करने से व्यक्ति द्वारा अनजाने में हुई गलतियों के से छुटकारा मिलता है और शुभ फलों की प्राप्ति होती है।

लेकिन अगर कोई व्यक्ति गंगा नदी में स्नान करने न जा सके तो वह किसी अन्य पवित्र नदी में गंगा मैय्या का ध्यान करता हुआ स्नान कर सकता है और अगर आपके लिए वो भी संभव न हो तो अपने घर में ही नहाने के पानी में थोड़ा-सा गंगाजल मिलाकर, उससे स्नान करें और दोनों हाथ जोड़कर मन ही मन गंगा मैय्या को प्रणाम करें। 

  1. हर प्रकार की मुसीबतों से अपने आपको बाहर निकालने के लिए इस दिन आप इन पंक्तियों का जाप करें और मन ही मन गंगा मैय्या का ध्यान करें।  पंक्तियां है- ‘शरणागत दीनार्त परित्राण परायणे। सर्वस्यार्ति हरे देवि! नारायणि ! नमोऽस्तु ते॥’   इन पंक्तियों का जाप करने से आपको हर प्रकार की मुसीबतों से बाहर निकलने में आसानी होगी।
  2. अगर आपको अपने करियर संबंधी किसी प्रकार की परेशानी का सामना करना पड़ रहा है और आप उस परेशानी से बाहर निकलना चाहते हैं, तो इस दिन स्नान आदि के बाद भगवान शिव की उचित विधि से पूजा करें। साथ ही भगवान को जलाभिषेक करें और चंदन अर्पित करें। फिर हाथ जोड़कर भगवान से अपने करियर संबंधी परेशानी से छुटकारा पाने के लिए प्रार्थना करें। ऐसा करने से आपको अपनी करियर संबंधी परेशानियों से जल्द ही छुटकारा मिलेगा। 
  3. अपने हर कार्य की सफलता सुनिश्चित करने के लिए इस दिन आप पद्म पुराण में गंगा के विषय में दिए इस मूलमंत्र का 108 बार जप करें। मूलमंत्र इस प्रकार है- ‘ओं नमो गंगायै विश्वरूपिण्यै नारायण्यै नमो नमः’  गंगा दशहरा के दिन इस मूलमंत्र का 108 बार जप करने से हर कार्य में आपकी सफलता सुनिश्चित होगी।
  4. अगर अनजाने में हुए किसी गलती का आपको मन ही मन गलानी होती हो तो उससे बचने के लिए आपको इस पंक्ति का 51 बार जप करना चाहिए। पंक्ति इस प्रकार है- ‘नमस्त्रि शुक्ल संस्थायै क्षमा वत्यै नमो नमः’ ऐसा करने से आपको मन ही मन हो रही गलानी या अफ़सोस से छुटकारा मिलेगा।
  5. अगर आपकी कोई विशेष इच्छा है, जो आप जल्द ही पूरी करना चाहते हैं, तो इस दिन गंगा मैय्या का ध्यान करते हुए इस पंक्ति का 21 बार जप करें।  पंक्ति है- ‘शान्तायै च वरिष्ठायै वरदायै नमो नमः’ ऐसा करने से आपकी इच्छा जल्दी ही पूरी होगी। 
  6. लोगों से अपनी मित्रता कायम रखने के लिए और जीवन में समृद्धि पाने के लिए इस दिन आपको इस पंक्ति का 51 बार जप करना चाहिए। पंक्ति है- नमस्ते विश्वमित्रायै नन्दिन्यै ते नमो नमः’  ऐसा करने से लोगों से आपकी मित्रता कायम रहेगी और जीवन में आपको खूब समृद्धि मिलेगी।
  7. अगर आपको लम्बे समय से कोई स्वास्थ्य संबंधी परेशानी बनी हुई है और आप उससे छुटकारा पाना चाहते हो और लंबी आयु की प्राप्ति के लिए इस दिन आपको इन पंक्तियों का जाप करना चाहिए। पंक्तियां कुछ इस प्रकार हैं- ‘संसार विष नाशिन्यै, जीवनायै नमोऽस्तु ते। ताप त्रय संहन्त्र्यै, प्राणेश्यै ते नमो नमः॥’  ऐसा करने से आपको लम्बे समय से चली आ रही किसी स्वास्थ्य संबंधी समस्या से छुटकारा मिलेगा। साथ ही लंबी आयु की प्राप्ति भी होगी। 
  8. अगर आप अथाह ज्ञान की प्राप्ति करना चाहते हैं, अपनी कविता करने की क्षमता को और बेहतर बनाना चाहते हैं, तो इस दिन आपको कपूर और गुग्गुल से हवन करना चाहिए। ऐसा करने से आपको बेहतर ज्ञान की प्राप्ति के साथ बेहतर कविता करने की क्षमता भी हासिल होगी। 

(आचार्य इंदु प्रकाश देश के जाने-माने ज्योतिषी हैं, जिन्हें वास्तु, सामुद्रिक शास्त्र और ज्योतिष शास्त्र का लंबा अनुभव है। इंडिया टीवी पर आप इन्हें हर सुबह 7.30 बजे भविष्यवाणी में देखते हैं।)

ये भी पढ़ें-

Ganga Dussehra 2023: कब है गंगा दशहरा, 29 या 30  मई को? यहां जानिए सही डेट, मुहूर्त और महत्व

गंगा दशहरा पर बन रहा है बेहद दुर्लभ संयोग, इन उपायों को करने से दूर होगी सभी परेशानी, होगा धन लाभ

Ganga Dussehra 2023: गंगा दशहरा पर इन गंगा स्तोत्रम का पाठ करते ही चुटकी में बदल जाएगी किस्मत, जानें कैसे करना है

 

 

 

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Festivals News in Hindi के लिए क्लिक करें धर्म सेक्‍शन





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *